Classification Of Computer In Hindi कंप्यूटर का वर्गीकरण क्या है समझाओ ?

Classification Of Computer In Hindi कंप्यूटर का वर्गीकरण क्या है समझाओ ?

Spread the love

नमस्कार दोस्तों आज हम बात कने वाले हैं कंप्यूटर  के  वर्गीकरण के बारे में ?  Classification Of Computer In Hindi कंप्यूटर का वर्गीकरण क्या है समझाओ ? इस आर्टिकल के द्वारा हम जानेगे की कंप्यूटर को कितने भागो में बांटा गया है  और प्रत्येक भाग को विस्तार से जानेगे

कंप्यूटर का  वर्गीकरण कितने भागो में हुआ है ?

कंप्यूटर का वर्गीकरण तीन भागो में किया गया है

कंप्यूटर का इतिहास लगभग 400 साल पुराना है पर इस पर निरंतर खोज होती रहती है  जिससे यह एक टॉपिक न बनकर बल्कि एक विषय बन गया है  जिसके कारण इसको एक चैप्टर (पाठ) के रूप में अध्धयन नही कर सकते है इसके बारे में जानने के लिए इसका वर्गीकरण कर दिया गया आज हम जानेगे  Classification Of Computer In Hindi कंप्यूटर का वर्गीकरण क्या है समझाओ ? जिससे हम इसके एक -एक खंड का अध्धयन आसानी से कर सके


Classification Of Computer In Hindi कंप्यूटर का वर्गीकरण क्या है समझाओ ?computer का वर्गीकरण तीन भागो में किया गया है और उन तीनो भागो को भी प्रोपर्टीस के अनुसार वर्गीक्रत किया गया है तो जानते है वह कौन-कौन  से भाग है  जिसमे कंप्यूटर का वर्गीकरण हुआ है

  • आकार के आधार पर
  • कार्य के आधार पर
  • उददेश्य के आधार पर

आकार के आधार पर कंप्यूटर को चार  भागो में विभाजित किया गया है

  • माइक्रो कंप्यूटर

माइक्रो कंप्यूटर बहुत छोटे होते है इनको आसानी से उठाकर एक स्थान से दुसरे स्थान तक ले जाया जा सकता है इनका उपयोग बेसिकली व्यवसाय और चिकित्सा से क्षेत्र में किया जाता है यह आकार में  घडी या पुस्तक के आकार के होते है माइक्रो कंप्यूटर के अंदर भी कंप्यूटरो को प्रकारों में विभाजित किया गया जो निम्न है –

Desktop –  यह कंप्यूटर सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला कंप्यूटर है यह दो प्रकार का होता है एक जिसमे cpu और मोनिटर एक ही  डिवाइस में होते है और एक डेस्कटॉप जिसमे  मोनिटर अलग और cpu अलग होता है यह डेस्क पर रखकर उपयोग किया जाता है इसलिए इसे डेस्कटॉप कहते है यह कंप्यूटर अन्य कंप्यूटर से अधिक डूरेबल होता है और इसमें आने वाली खराबी हो कम खर्च में और आसानी से सही किया जा सकता है 

Laptop –  आज के समय इस  का उपयोग तेजी से बढ़ रहा है क्योकि इसका आसानी से कही पर भी रखकर कार्य कर सकते है यह बैटरी से चलता है जिसके कारण इसे एसी जगह पर उपयोग किया जा सकता है जहा पर बिजली का पॉइंट ना हो इसमे एक ही डिवाइस में मोनिटर , cpu keyboard माउस सब होते है हमें अलग से कोई भी डिवाइस लगाने की जरुरत नही पड़ती है 

Palmtop–   यह आकार में बहुत छोटा होता है जो लगभग एक हथेली के आकार का होता है  इसलिए इसे plamtop कहते है छोटा  होने के कारण हम इसे कही भी आसानी से ले जा सकते है बस ट्रेन यात्रा के दौरान हम इसका उपयोग कर सकते है 

Tablet – यह मोबाइल का थोडा सा बड़ा रूप है इसकी डिस्प्ले बड़ी होने के कारण हमें के करने में आसानी होती है और इसे भी हम कही पर भी आसानी से चला  सकते है 

  • मिनी कंप्यूटर

मिनी कंप्यूटर माइक्रो कंप्यूटर का अपडेट मॉडल है यह कीमत और कार्य क्षमता में माइक्रो कंप्यूटर  से आगे होते है  इन कंप्यूटर का उपयोग बैंक तथा माध्यम स्टार की कंपनिया करती है   इन कंप्यूटरो की मुख्य बात यह होती है की इन पर एक समय में एक से अधिक व्यक्ति  आसानी से कार्य कर सकते है  मिनी कंप्यूटर की डेटा ट्रान्सफर करने की स्पीड 10-30 MBPS तक होती है

  • मेनफ्रेम कंप्यूटर

बड़ी कंपनिया या बैंको में इस कंप्यूटर का उपयोग मुख्य कंप्यूटर के रूप में किया जाता है इसी कंप्यूटर से अन्य कंप्यूटर को एक्सेस दिया जाता है अन्य कंप्यूटर इसके क्लिंट  की तरह काम करते है यह उस जगह का केन्द्रीय कंप्यूटर  भी कहलाता  है

कार्य के आधार पर कंप्यूटर को तीन भागो में विभाजित किया गया है

एनालॉग – इन कंप्यूटर का उपयोग इंजीनियरिंग  और विज्ञानं के क्षेत्र में किया जाता है यह यह मात्राओ  को अंको में परिवर्तित करते है  …… और देखे 

डिजिटल – यह आज के  युग के कंप्यूटर है ये इनपुट डेटा को बायनरी फोर्मेट (0 और  1) में बदल लेते है इस प्रक्रिया को इलेक्ट्रॉनिक फ्फोर्माते में बदलना कहते है  …..और देखे 

हाइब्रिड  – जिन कंप्यूटर में एनालॉग और डिजिटल कंप्यूटर दोनों के गुण पाये  जाते है हाइब्रिड कंप्यूटर कहलाते है  ……. और देखे 

उददेश्य के आधार पर कंप्यूटर को दो भागो में विभाजित किया गया है

  • सामान्य  उद्देशीय कंप्यूटर 

जिन कंप्यूटर का उपयोग सामान्य आवश्यकताओ की पूर्ति के लिए किया जाता है उन्हें हम सामान्य उद्देशीय कंप्यूटर कहते है  जैसे की डॉक्यूमेंट बनाने , word, excel , power point या प्रिंटिंग करने के लिए , डेटाबेस बनाने के लिए

इन कंप्यूटरो  से सामान्य आवश्यकताओं की पूर्ति हो जाती है सबसे ज्यादा मात्रा में इन्ही कंप्यूटरो का उपयोग किया जाता है स्कूल, कॉलेज , बैंक, दफ्तर, ऑफिस, और घरो में इन्ही कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है

  • विशिष्ट उद्देशीय कंप्यूटर 

जिन कंप्यूटर  का उपयोग हम विशिष्ट कार्यो को करने में करते है वह विशिष्ट उद्देशीय कंप्यूटर कहलाते है जैसे मौसम सम्बन्धी  जानकारी पता करने के लिए , अन्तरिक्ष अनुसन्धान कार्यो में उपयोग होने वाला कंप्यूटर , प्रयोगशाला में उपयोग होने वाला कंप्यूटर , उपग्रह को संचालित करने वाला कंप्यूटर ,

इन कंप्यूटर की क्षमता सामान्य कंप्यूटरो से बहुत अधिक होती है जिसके कारण इनका उपयोग विशिष्ट कार्यो की पूर्ति के लिए किया जाता है

हम ने सीखा  – दोस्तों आशा करता हूँ Classification Of Computer In Hindi आर्टिकल के द्वारा कंप्यूटर वर्गीकरण से सम्बंधित  जानकारी आपको पसंद आएगी कंप्यूटर , इन्टरनेट , टेक्नोलॉजी से सम्बंधित जानकारी के लिए  ब्लॉग पर विजिट करते  रहिए