DA क्या है DOMAIN AUTHORITY क्या होती है ?

Spread the love

नमस्कार  दोस्तों  आज हम बात  करने  वाले  है डोमेन अथिरिटी के बारे है वेबसाइट की डोमेन अथोरिटी DA क्या होती है  यह वेबसाइट के लिए क्यों उपयोगी है तथा इसको कैसे बढाया जा सकता है और यह किन किन कारणों पर निर्भर करती है


panda algorithm

 

दोस्तों डोमेन अथोरिटी DA यह वेबसाइट के लिए होती है यह हमें यह बताती है की हमारी वेबसाइट हमारी जैसी अन्य  वेबसाइटस में  किस नंबर पर है जैसे की दोस्तों दो वेबसाइट है जो लगभग एक जैसा कंटेंट  अपलोड करती है  अब गूगल के फर्स्ट  पेज पर किस  की वेबसाइट RANK करेगी यह डोमेन अथोरिटी डिसाइड करती है जिस वेबसाइट की डोमेन अथोरिटी ज्यादा होगी अपने कोम्प्तिटर से उसकी वेबसाइट रैंक करेगी 

डोमेन अथोरिटी  को गूगल कभी भी कंसीडर नही करता है डोमेन अथोरिटी  MOZ के द्वारा  दी जाती है  एक वेबसाइट और उस वेबसाइट से जो वेबसाइट कॉम्पटीशन कर रही है उन सभी वेबसाइट में एक वेबसाइट का रैंक करने का कितना नंबर है यह डोमेन अथोरिटी होता है  जिस वेबसाइट की जितनी ज्यादा डोमेन अथोरिटी होगी वह उतनी ही ज्यादा रैंक करेगी डोमेन अथोरिटी का स्केल 0  से लेकर 100 तक होता है 

डोमेन अथोरिटी किस किस पर निर्भर करती है 

BACKLINKS पर –  दोस्तों डोमेन अथोरिटी सबसे ज्यादा BACKLINKS पर निर्भर करती है हमारी वेबसाइट पर जितनी NUMBER OF BACKLINK होगी हमारी वेबसाइट की डोमेन अथोरिटी उतनी ही जल्दी बढेगी इस सब में यह FACTER बहुत जरुरी है की हमारी वेबसाइट पर कितनी HIGH QUALITY  BACKLINK  है जिससे हमारी वेबसाइट की डोमेन अथोरिटी बढेगी डोमेन अथोरिटी के लिए QUANTITY से ज्यादा QUALITY जरुरी यदि हमें किसी एसी वेबसाइट पर BACKLINK बनायीं है जिसका का खुद का कोई डोमेन अथोरिटी नही है तो उस वेबसाइट से मिला BACKLINK हमारे लिए कोई काम का नही है हमें BACKLINK बनाने से पहले यह हमेशा चके करना चाहिए की उस वेबसाइट का डोमेन अथोरिटी कितनी है हम से कम तो नही है उसकी पेज रैंक कितनी है उर सबसे जरुरी उस वेबसाइट का SPAM SCORE  तो ज्यादा नही है यदि हम एसी वेबसाइटस  पर बच्क्लिंक बना रहे है जिसका स्पैम स्कोर ज्यादा है तो ऑटोमेटिक हमारी वेबसाइट का भी स्पैम स्कोर बढ़ जाएगा  और जिस वेबसाइट का स्पैम स्कोर ज्यादा होता है  उस वेबसाइट को गूगल कभी भी रैंक नही करता 

 

वेबसाइट की AGE पर 

हमारी वेबसाइट कितनी पुराणी है यह भी डोमेन अथोरिटी  के लिए जिम्मेदार होता है यदि हमारी वेबसाइट  ज्यादा पुराणी होगी तो गूगल की नजर में हमारे डोमेन की वैल्यू बनेगी  जिससे डोमेन अथोरिटी इनक्रीस होगी