Software क्या होता है What Is Software In Hindi ?

Spread the love

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करने वाले है कि सॉफ्टवेयर  होता है  और यह कैसे काम करता है software kya hai  What Is Software In Hindi ? दोस्तों जैसे जैसे कंप्यूटर कि उपयोगिता बढती जा रही है वैसे वैसे ही सॉफ्टवेयरों  का भी चलन  बढ़ता जा हा है तो आइये जानते है की Software क्या होता है What Is Software In Hindi ?

 

दोस्तों software kya hai  सॉफ्टवेयर का सीधा सम्बन्ध प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है क्योकि सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग भाषा में लिखे प्रोग्रामो और उससे जुड़े प्रोग्रामो का समूह है  जो कंप्यूटर को यह बताने का कार्य करता है की कंप्यूटर  को क्या करना है और कैसे करना है  सॉफ्टवेयर कंप्यूटर में जुड़े  हार्डवेयर पार्ट्स के बीच समन्वय (coordination) बनाये रखता है  और पूरा कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के दिए गए निर्देशों पर कार्य करता है  और सॉफ्टवेयर का प्रमुख कार्य डेटा को सुचना बदलना होता है 

 

अब प्रत्येक सॉफ्टवेयर का अपना अपना कार्य होता है इस आधार पर सॉफ्टवेयरों को तीन भागो में विभाजित किया गया है

 

सिस्टम सॉफ्टवेयर

यह इस प्रकार का सॉफ्टवेयर होता है जो जो हमारे सिस्टम जैसे कंप्यूटर लैपटॉप , डेस्कटॉप   को  चलाने (ओपरेट) के लिए उपयोग किया जाता है यही हमारे पूरे कंप्यूटर को नियंत्रित करता है और उसके सभी हार्डवेयर पार्ट्स के बीच समन्वय बनाए रखता है  इन प्रकार के सॉफ्टवेयरों को सिस्टम सॉफ्टवेयर कहा  जाता है

और यह कंप्यूटर Developer के द्वारा ही बनाए जाते है हम कंप्यूटर को जो भी निर्द्देश देते है वो हम सिस्टम सॉफ्टवेयर के द्वारा ही कर पाते है हमारा  कंप्यूटर से संवाद सिस्टम सॉफ्टवेयर के द्वारा ही होता है सिस्टम सॉफ्टवेयर  के बिना हम कंप्यूटर से नही  जुड़ सकते है   

इस लिए यह कंप्यूटर  में सबसे पहले इनस्टॉल किये जाते है  यह एक बड़ा सॉफ्टवेयर होता है क्योकि इसमें  कंप्यूटर  को नियंत्रण करने वाले सभी प्रोग्राम होते है

System Software  के प्रकार

  • Operating System –   यह कंप्यूटर में सबसे पहले इनस्टॉल  होता है और पूरे क्कोम्पुटर सिस्टम पर नियंत्रण बनाये रखता है कंप्यूटर का बंद होना , चालू होना , हार्डवेयर पार्ट्स , उसकी इनपुट और आउटपुट यूनिट सभी के बीच सम्बन्ध स्थापित करना ऑपरेटिंग सिस्टम का ही कार्य होता है ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर सिस्टम और यूजर के मध्य एक इंटरफेस का कार्य करता है   Windows XP, Window 7,8,और Window 10 लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के उदहारण है

 

  • भाषा परिवर्तन  लैंग्वेज ट्रांसलेटर  – यह एक अलग प्रकार  का सॉफ्टवेयर  होता है जो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में लिखे प्रोग्राम को एसी भाषा में बदलता है जिस भाषा को कंप्यूटर समझता  है या हम यू कहे की यह हमारी भाषा कंप्यूटर को और कंप्यूटर की भाषा हमें समझाने का कार्य करता है

 

  • डिवाइस ड्राइवर – यह बहुत प्रमुख सॉफ्टवेरयर होता है जो कंप्यूटर से जुडी डिवाइसेस को सुचारू रूप से चलने के काम आता है जैसे की प्रिंटर, स्केनर ,ब्लुएतुथ स्पीकर , आदि यह सॉफ्टवेयर डिवाइस को कंप्यूटर से जोड़ने का काम करता है और दोनों के बीच एक सम्बन्ध  स्थापित करता है

Application Software – यह सॉफ्टवेयर वे सॉफ्टवेयर होते है जो कई प्रोग्रामो का समूह होते है जो प्रोग्रामरो द्वारा कार्य करने के लिए लिखे जाते है पत्र आदि लिखने , कर्मचारियों का लेखा- जोखा रखने ,लेन-देन से सम्बंधित सभी प्रकार के हिसाब रखने , वेतन गणना करने जैसे कार्य . अगर हम कहे तो कंप्यूटर सबसे ज्यादा इन्ही कार्यो के लिए उपयोग में लाया जाता है

उदाहरण  – Microsoft word, Excel ,PowerPoint Etc.

यूटिलिटी सॉफ्टवेयर

ये वे सॉफ्टवेयर होते है जो कंप्यूटर के रख रखाव और उसके बूटिंग प्रोसेस को अच्छा बनाते है यूटिलिटी सॉफ्टवेयर जैसे की  टेक्स्ट एडिटर जो टेक्स्ट को एडिट करने के काम आये ,एंटी वायरस जो कंप्यूटर को सुरक्षा प्रदान करे डिस्क क्लीनर जो हार्डडिस्क को क्लीन रखे  बैकअप जो महत्वपूर्ण फाइल्स को सुरक्षित रखे

अन्य आर्टिकल 

इन्टरनेट के लाभ क्या है | Advantages Of Internet In Hindi ?

कंप्यूटर की विशेषताए क्या है ? विस्तार से समझाओ ?

दोस्तों आज हमन जाना software kya hai ओ इसके कितने व् कौन-कौन से प्रकार है और यह किस तरह हमारे लिए उपयोगी है कंप्यूटर हार्डवेयर नेटवर्किंग और टेक्नोलॉजी से जुडी और जानकारी पाने के लिए हमारे Blog पर विजिट करते रहिये

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *